Blog

Jupiter Planet | ब्रहस्पति ग्रह कैसे हुआ जन्म और कैसे बने देवगुरु

सौर मंडल में नवग्रहों की उपस्थिति दर्ज हैं जिसका लिखित प्रमाण हमें हमारे इतिहास से मिलता है। उन्हीं नवग्रहों में सूर्य से पाँचवा और सौर मंडल में सबसे बड़ा बृहस्पति ग्रह है। Jupiter Planet ब्रहस्पति ग्रह जिसे गुरू भी कहा गया है एवं रोमन सभ्यता ने अपने देवता Jupiter Planet के नाम पर इसका नाम […]

Shani Shingnapur Temple – जानें शनि धाम की कहानी

घर जिसमें कीमती सामान रखा हो पर उस घर की दहलीज पर कोई दरवाजा न हो। पर फिर भी उस घर मे चोरी की कोई वारदात न हुई हो। ऐसा घर आपको कहाँ मिलेगा। तो उसका जवाब है महाराष्ट्र का एक छोटा सा गांव Shani Shingnapur यह किस्सा वह स्थित हर घर की है। Shani […]

आपका Rashi Chakra और रूचि

समाज में मौजूद हर व्यक्ति अपने अलग सोच , अलग व्यक्तित्व के लिए जाना जाता है। कभी दो भिन्न व्यक्ति एक दृश्य को एक समान देखे ऐसा बहुत कम बार पाया गया है। ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि सबकी पसंद और नापसंद व्यक्ति की सोच से सामने आते हैं। हर व्यक्ति की सोचने का दायरा […]

Kanyadan – कन्यादान क्यों और कैसे होता है?

शादी भारतीय परंपरा का सबसे अभिन्न अंग है। एक ऐसा त्योहार जब दो भिन्न किस्म के इंसान एक हो जाते हैं तथा उनके उनके परिवार भी एक ही में सम्मिलित हो जाते हैं। घर की बेटी जैसे ही जीवन का 18वां पायदान पार करती है घर में सबको बेटी की शादी की चिंता सताने लगती […]

Mahamrityunjay Mantra in Hindi | कलयुग में ब्रह्मास्त्र है

भगवान शिव जिन्होंने इस सृष्टि की रचना की जो समाज में कई नाम से जानें जाते हैं। जिनमे भोलेनाथ, महाकाल नाम प्रमुख हैं। भक्त इनको रिझाने में लगे रहते हैं। इनको अपना लिया तो मौत भी उस इंसान के सामने आने में घबराती है। इन्हें तभी देवों के देव महादेव कहा गया है। इनका न […]

माँ चंद्रघंटा – नवरात्र का तीसरा दिन माँ दुर्गा के चंद्रघंटा स्वरूप की पूजा विधि

स्त्री हमारे समाज का वह हिस्सा है जिसके बिन सब अधूरा है । इनके बिना समाज की कल्पना करना ही पाप है । यह आपकी माँ होती है आपकी बहन होती है और आपकी हमसफ़र भी कहलाई जाती है । स्त्री पुरुष के उथल पुथल संसार में शांति लाती है जिससे पुरुष कोसों दूर रहता […]

माँ ब्रह्मचारिणी – नवरात्र का दूसरा दिन माँ दुर्गा के ब्रह्मचारिणी स्वरूप की पूजा विधि

नवरात्र व्रत यह हिन्दू परम्परा में ऐसे नौ रातों में फैला त्योहार है । इन नौ रातों में देवी शक्ति के नौ स्वरूपों की पूजा आराधना होती है और दसवां दिवस दशहरा के नाम से प्रसिद्ध है। नवरात्र का यह त्योहार गुजरात में बहुत बड़े स्तर पर मनाया जाता है, जहाँ नवरात्र का अर्थ ही […]

Lohri 2020 (लोहड़ी 2020) दिनांक और महत्व

जनवरी का महीना यूँ तो अंग्रेजी कैलेंडर के मुताबिक नए साल के नए उमंग उल्लास के साथ भरपूर होता है। लोगो में नए साल में नया सीजन का जुनून होता है। जनवरी में इन नए उमंग के साथ कपा देने वाली ठंड भी मौजूद होती है, इसी मौसम में ठंड में आग के पास बैठकर […]

Rang Panchami 2020 | होली पर रंगों में रमे होते हैं देवता

Rang Panchami भी होली का एक भिन्न रूप हैं। मानो एक ही माँ के दो जुड़वा पुत्र। इसे चैत्र मास की कृष्ण पंचमी को मनाया जाता है। दरअसल Holi का जश्न कई दिनों तक चलता है और इसकी तैयारियां होली के दिन यानि फाल्गुन पूर्णिमा से लगभग एक महीने पहले शुरू हो जाती है। फाल्गुन […]

शुक्र ग्रह – कैसे बने भार्गव श्रेष्ठ शुक्राचार्य पढ़ें पौराणिक कथा

विद्यार्थी वक्त में यह विषय सबसे ध्यान पूर्वक कहा जाता है। हमारे सूर्य और  उसके ग्रहीय मंडल को मिलाकर यह सौर मंडल उतपन्न होता है। सौर मंडल जिसमे आठ ग्रह, उनके 172 ज्ञात उपग्रह, पाँच बौने ग्रह और अरबों छोटे पिंड शामिल हैं। इन छोटे पिंडों में क्षुद्रग्रह, बर्फ़ीला काइपर घेरा के पिंड, धूमकेतु, उल्कायें […]

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top