पंचाक्षर मंत्र ऊँ नमः शिवाय कैसे बना सबसे प्रभावशाली शिवमंत्र

व्यक्ति अपने जन्म के वक्त चिंता मुक्त होता है परन्तु यह चिंता ही है जो व्यक्ति के उम्र के साथ बढ़ता रहता है। चिंता कभी तो इतनी बढ़ सकती है कि व्यक्ति हताश होकर यह सोचने लगता है कि उसकी जिदंगी में अब शांति नहीं रही सब बिखर गया है। तो इस वक्त व्यक्ति को […]

ब्रह्मराक्षस और महातांत्रिक के बीच संग्राम काशी की सत्यकथा

ब्रह्मराक्षस यह शब्द से आपका मिलन कई बार हो चुका होगा परन्तु अर्थ शायद आपको ज्ञात न हो। कहा जाता है कि हर इंसान के भीतर दो गुण पाए जाते हैं, एक अच्छा तो एक बुरा ठीक उसी प्रकार ब्रह्मराक्षस एक ऐसा ब्राह्मण का रूप है जिसमें व्यक्ति के भीतर ज्ञान तो ब्राह्मण स्वरूप ही […]

हनुमान जी का मंत्र, हरेगा सारे कष्ट

हनुमान जी हिन्दू इतिहास के सबसे बड़े भक्त में से एक रहें। इनकी श्रीराम के प्रति आस्था अद्धभुत थी। हनुमान जी को शिव जी का अवतार माना जाता है तभी इनके शिवजी के गुण मौजूद है। देवताओं में भगवान शिव के बाद बजरंगी बली ही ऐसे देवता हैं, जो अपने भक्तों पर अतिशीघ्र प्रसन्न होते […]

खजाने के गुप्तरक्ष्क जीवाधारी की दुनिया: रहस्यकथा

व्यक्ति के जीवनकाल में वह जो भी कार्य करता है उसका मकसद उस कार्य के रास्ते चलकर धन प्राप्ति के लिए होता है। धन व्यक्ति के हर जरूरत को पूरा कर सकता है। इसी धन रूपी खुशी को पाने के लिए व्यक्ति मेहनती भी बनता है तो कई व्यक्ति चोर और डकैत भी बन जाते […]

चित्रगुप्त पूजा या दावात पूजा की सरलतम विधि एवं कथा

हिन्दू धर्म मे चित्रगुप्त देव का नाम बड़े आदर सम्मान से लिया जाता है । यह कहा जाता है कि व्यक्ति अपने अंदर उतपन्न होते  हर विचार को चित्र के रूप में सँजोता है । चित्रगुप्त देव को यमराज का सहायक बताया जाता है, इनके पास व्यक्ति के हर कर्म का लेखा-जोखा होता है । […]

योगमुद्रासन की विधि एवं लाभ

योग ऐसी आध्यात्मिक प्रक्रिया है जिसमें आत्मा का परमात्मा से मिलन होता है। नेपाल और भारत में यह क्रिया काफी सालों से इस्तेमाल में लिया जाता है। इस समय योग सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में अपने कदम जमा चुका है। 21 जून को हर साल अब अंतराष्ट्रीय योग दिवस के तहत मनाया […]

शिव जी की आरती और व्रत विधि

शिव,भोलेनाथ, महादेव, पशुपतिनाथ, या कहो नटराज या महाकाल। हर नाम शिव जी का व्यक्तित्व दर्शाता है। वह अपने भोलेपन के लिए जितना जाने जाते हैं उतना ही अपने क्रोध के लिए भी। भोले के भक्त इनकी आराधना के लिए खासकर शिवरात्रि का बेसब्री से इंतजार करते हैं। शिव जी को रिझाने के लिए भक्त सोमवार […]

श्री दुर्गा सप्तशती पाठ की सही विधि-आप कैसे करते हैं?

माँ और बच्चों का रिश्ता संसार का सबसे अनमोल रिश्ता माना गया है। मां से कुछ भी प्रेम भावना से मांगो तो माँ अवश्य उस मांग को पूर्ण करती है। तभी माँ के भक्त रूपी बच्चे नवरात्रों का इंतजार बेसब्री से करते हैं। उनके मन में माँ के लिए श्री दुर्गा सप्तशती पाठ करने की […]

हनुमान जी की आरती एवं पूजा विधि

भारत वर्ष के सबसे पहले सुपरहीरो से विख्यात पवनपुत्र हनुमान । श्री राम जी के परम भक्त श्री हनुमान जी का जन्म त्रेतायुग के अंतिम चरण में चैत्र पूर्णिमा को मंगलवार के दिन चित्रा नक्षत्र व मेष लग्न के योग में सुबह 6.03 बजे भारत देश में आज के झारखंड राज्य के गुमला जिले के […]

योगासन क्या है: प्राचीन विज्ञान?

प्रत्येक मनुष्य के लिए अपने जीवनकाल में सेहत के प्रति ध्यान देना बेहद आवश्यक है। प्रतिदिन कम से कम 15 से 20 मिनट अपने स्वास्थ्य को दें, योगासन का अभ्यास करें। इससे आपका मन शांत रहेगा जिससे आपको काम करने की नई ऊर्जा प्राप्त होगी। जानिए योगासन क्या है और इससे सम्बंधित प्राचीन विज्ञान। योगासन […]

Begin typing your search term above and press enter to search. Press ESC to cancel.

Back To Top